ruhani dil shayari

क्यों किसी पर मरता है दिल,
क्यों किसी के लिए तड़पता है दिल,
मिला नहीं है इस बार मोहब्बत पर मेरी,
फिर भी देश – क्यों उसको पाने की हसरत रखता है दिल।

क्यों किसी के आंसू ले लेना चाहता है दिल,
क्यों किसी को अपनी खुशियां देना चाहता है दिल,
नहीं है उसकी मुस्कुराहट मेरे लिए,
फिर भी – क्यों उसकी मुस्कुराहट में सुकून खोजता है दिल।

किसी के गम को देख कर रोता है दिल,
क्यों किसी की हर चाहत पूरी करना चाहता है दिल,
नहीं है उसे जरूरत मेरी फिर भी,
क्यों उसका साथ उम्र भर देना चाहता है दिल।